Thursday, 2 February 2012

तुझे पुजूं मैं मां शारदे

तुझे पुजूं मैं मां शारदे, चरणों में शीश नवाउं -२
तेरी स्तुति गाउं, गा के मां मैं सुनाउ
तुझे पुजूं मैं मां शारदे, चरणों में शीश नवाउं-२

मुझे ग्यान का वर देकर मेरी आरजू कर पूरी -२
... तेरे ग्यान की ये ज्योति, सारे जग में मैं फ़ैलाउं-२
तुझे पुजूं मैं मां शारदे, चरणों में शीश नवाउं-२
तेरी स्तुति गाउं, गा के मां मैं सुनाउ
तुझे पुजूं मैं मां शारदे, चरणों में शीश नवाउं-२

बैठ जिह्वा पे कुम्भकर्ण के इंद्रासन को बचाया-२
तेरी स्तुति को मैया मैं शब्द कहां से लाउ ! -२
तेरी स्तुति गाउं, गा के मां मैं सुनाउ
तुझे पुजूं मैं मां शारदे, चरणों में शीश नवाउं-२
(Music: Mere dil me aaj kyaa hai...) - प्रणव झा 'सूरज का सातवाँ घोड़ा

No comments:

Post a Comment